Navratri, Women in Kashi

राजेश रेड्डी – “सर कलम होंगे यहां, जिनके मुँह में  जुबाँ बाकी है।”
उपरलिखित से सहमति के बावजूद भी, निम्नलिखित:
1. नवरात्रि का पावन पर्व है। आज तृतीय दिवस है।
2. भारत में नरेंद्र मोदी की सरकार है। उत्तर प्रदेश में योगी जी की।
3. मोदी जी और योगी जी दोनों ही हिन्दू हित और हिन्दू परम्परा के हिमायती हैं।
4. मोदी जी की सरकार बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ के सिंद्धांत पर काम कर रही है।
5. पूर्व भाजपा अध्यक्ष और वर्तमान उपराष्ट्रपति श्री नायडू जी पौराणिक भारत में मां दुर्गा को रक्षा मंत्री, लक्ष्मी को वित्त मंत्री और सरस्वती को शिक्षा मंत्री बताते हैं।
6. संभवतः बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ को सोच में भी यही हिन्दू संस्कार रहे होंगे।
7. भारत की एक बेटी वर्तमान विदेश मंत्री श्रीमती सुषमा स्वराज  ने हाल ही में पोइरे विश्व को आइना दिखाया और अपनी कुशल वकशैली से भारत का मान बढ़ाया।
8. संयोगवश उनकी समकालीन रक्षामंत्री भी एक सशक्त महिला हैं।
इस सबके बावजूद, हिन्दू धर्मस्थली, पार्वती पति भगवान शिव की नगरी काशी वाराणसी में मां गंगा के सानिध्य में पार्वती पुत्रियों – भविष्य की दुर्गा, लक्ष्मी, सरस्वती और न जाने क्या – पर –  हिन्दू ह्रदय सम्राट श्री मोदी जी के संसदीय क्षेत्र में, श्री योगी के मुख्य मंत्री रहते हुए – नव रात्रि के दौरान  पुरुष पुलिस दल द्वारा लाठी चार्ज और हवाई फायरिंग कर दी जाती है। ये पार्वती पुत्रियां मात्र सुरक्षा की मांग और छेड़छाड़ से छुटकारे की मांग कर रही थीं।
और हिन्दू जन, जिन्होंने तथाकथित हिन्दू हृदय सम्राट श्री मोदी और श्री योगी को लगभग भगवान का दर्जा दे रख्खा है, इसमें भी प्रभु (मोदी और योगी) लीला देख के प्रसन्न हो रहे हैं।
धन्य हैं।

Paras Mishra

I am cool, calm, collected, and reasonable Virgo. I currently reside in Garden City Bangalore. I am an Engineering Graduate and work as Management Consultant.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *